ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना 2022 – सम्पूर्ण जानकारी किसान भाईयों के लिए

मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने किसानों को आत्म-निर्भर बनाने तथा किसान भाईयों की आय में वृद्धि करने के लिए ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना की शुरवात की है। जिसके जिस के माध्यम से राज्य के किसानों को खेती के लिए आवश्यक नए उपकरण खरीदने के लिए 30 से 50% तक धनराशि उपलव्ध करवाकर उन्हे सब्सिडी दी जाएगी।  ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना का सब से बड़ा फायदा राज्य के किसान भाईयों को होनेवाला है जिस के चलते किसान भाईयों को कृषि उपकरण लेने के लिए आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पडेगा। 

इस आर्टिकल में हम  ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना से जुडी सभी जरुरी बातों की जानकारी देने जा रहे है.  कैसे किसान भाईयों को मिलेगा योजना का लाभ और इस योजना के लिए आवेदन कैसे किया जाए? साथ ही इस योप्जना से जुडी सभी जानकारी आप को इस आर्टिकल में पढने को मिलेगी. आर्टिकल को पूरा पढ़ें. चलों शुरू करते है – ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के बारे मे।

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना 

किसान भाईयों की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने एवं प्रदेश के किसान भाईयों की आमदनी मे सुधार करने के लिए राज्य सरकार द्वारा ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के अंतर्गत किसान भाईयों को नए उपकरणों को खरीदने पर सरकार द्वारा 30 % से लेकर 50 % तक की अनुदान धनराशि प्रदान की जाएगी । जिसमे किसानों को 40,000 से 60000 रूपए तक की सब्सिडी मिलेगी। प्रदेश सरकार का उद्देश्य है के प्रदेश मेवं रहनेवाले गरीब किसान भाईयों को खेती में किसी तरह की कोई परेशानी का सामना ना करना पडे। 

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना का लाभ किसान भाईयों को ऑनलाइन आवेदन करके प्राप्त होगा।

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना का उद्देश्य 

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सुरु की गयी ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना  का मूल उद्देश है की खेती करने के लिए आवश्यक यंत्रों की खरीद के लिए किसान भाईयों की सहायता करना है, जिस के माध्यम से किसान भाई अपनी आय को बढ़ा सकते है, जिस से प्रदेश में खेती के उत्पादन को बढ़ाना और, प्रदेश के किसानों के जीवनशैली को सुधारना है. 

एक टेबल के माध्यम से योजना को समझते है. 

योजना का नाम ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
शुरू करने वाला राज्य  मध्य प्रदेश 
लाभार्थी राज्य के किसान भाई 
योजना में मिलनेवाली सहायता  पात्र लाभार्थीयों को कृषि उपकरण खरीदने के लिए सरकार द्वारा अनुदान राशि प्रदान करना|
आवेदन करने की प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट dbt.mpdage.org/index.htm

 

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के लिए आवश्यक  पात्रता 

  1. ट्रैक्टर खरीद के लिए पात्रता
  2. स्वचालित कृषि उपकरण के लिए पात्रता
  3. ट्रैक्टर से चलने वाले सभी प्रकार के कृषि यंत्र के लिए पात्रता 
  4. स्प्रिंकलर, ड्रिप सिस्टम, रेनगन, डीजल/विद्युत् पंप के लिए पात्रता

ट्रैक्टर खरीद के लिए पात्रता

इस योजना के अंतर्गत ट्रक्टर खरीद के लिए सरकार द्वारा आवश्यक पात्रता तय की गयी है, इस तय पत्र के तहत किसी भी श्रेणी के किसान भाई जो ट्रैक्टर का कार्य कर सकते हो वे इस योजना के लिए पात्र है. लेकिन केवल वही किसान इस योजना के लिए पात्र होंगे जिन्होंने 7 वर्षों में ट्रैक्टर या पावर लीटर के लिए विभाग की किसी भी योजना का लाभ नहीं लिया है। साथ ही किसी भी किसान भाई को जिस के नाम पर खेती है, उसे इस योजना के दरम्यान ट्रैक्टर और पावरटिलर में से किसी एक पर ही अनुदान का लाभ प्राप्त होगा।

स्वचालित कृषि उपकरण के लिए पात्रता

 इस योजना के अंतर्गत किसी भी श्रेणी के किसान भाई उक्त सामग्री को खरीद सकते है। इस योजना के लिए केवल वे किसान भाई ही पात्र होगे जिन्होने गत 5 वर्षो में उक्त यंत्रो के क्रय पर विभाग की किसी भी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ प्राप्त नही हो।

ट्रैक्टर से चलने वाले सभी प्रकार के कृषि यंत्र के लिए पात्रता 

इस योजना के अंतर्गत किसी भी श्रेणी के किसान भाई यह यंत्र को खरीद सकते है लेकिन इस के लिए किसान भाईयों के पास स्वयं के नाम पर पूर्व से ट्रेक्टर होना आवश्यक है। साथ ही इस योजना के लिए केवल वे किसान भाई ही पात्र होगे जिन्होने गत 5 वर्षो में उक्त यंत्रो के खरीद पर विभाग की किसी भी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ प्राप्त नही किया है।

स्प्रिंकलर, ड्रिप सिस्टम, रेनगन, डीजल/विद्युत् पंप के लिए पात्रता

इस योजना के अंतर्गत केवल वही किसान भाई जिसके पास स्वयं की भूमि हो वे योजना के लिए पात्र होंगे

साथ ही किसान भाईयों के द्वारा 7 वर्षों में सिंचाई उपकरण का लाभ लिया हो वह इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे. और इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान भाईयों के खेत में खुद का डीजल/विद्युत् पंप कनेक्शन होना अनिवार्य है।

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के लिए आवश्यक जरुरी दस्तावेज 

इस योजना के लिए किसान भाईयों को निम्न दस्तावेजों के जरूरत है.

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बिजली कनेक्शन का प्रमाण
  • जाति प्रमाण पत्र (केवल अनुसूचित जाति एवं जनजाति के किसान हेतु)
  • बी-1 की प्रति
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

कृषि उपकरण योजना सब्सिडी सिंचाई यंत्र 

  1. पाइपलाइन
  2. रोटाबेटर
  3. टैक्टर
  4. डीजल पम्प सेट
  5. इंजन
  6. पंम्प सेट

MP ई-कृषि उपकरण सब्सिडी सूची 

  • लेजर लैंड लेवलर
  • रोटावेटर, पावर टिलर       
  • रेजड बेड प्लांटर
  • ट्रैक्टर (20 हॉर्सपावर से अधिक)     
  • ट्रैक्टर चलित रीपर कम बाइंडर      
  • स्वचालित रीपर
  • ट्रैक्टर माउंटेड/ऑपरेटेड सप्रेयर   
  • मल्टी क्रॉप थ्रेशर/एक्सियल फ्लो पैडी थ्रेशर  
  • पैड़ी ट्रांसप्लांटर
  • सीड ड्रिल            
  • रीपर कम बाइंडर
  • हैप्पी सीडर
  • जीरो टिल सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल          
  • सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल            
  • रेस्ट बेड प्लांटर विद इंक्लाइंड प्लेट प्लांट एंड शेपर
  • पावर हैरो             
  • पावर वीडर(इंज चलित 2 बीएचपी से अधिक)
  • मल्टीक्रॉप प्लांट्स
  • ट्रैक्टर (20 हॉर्स पावर तक) छोटे     
  • मल्चर   
  • श्रेडर

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना मुख्य बातें 

किसान भाईयों के लिए जरुरी है के, ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत खरेदी के स्वीकृति आदेश जारी होने के 20 दिन के अन्दर सम्बन्धित सामग्री को खरीद कर प्रकरण डीलर के माध्यम से निर्माता को सूचित किया जाना आवश्यक होगा।

अगर किसी कारणवश किसान बहियों द्वारा किया गया आवेदन निरस्त हो गया तो योजना के सम्बन्धित लाभार्थी को आगामी 6 माह तक आवेदन प्रस्तुत करने की पात्रता नहीं होगी ।

किसान भाईयों को सामग्री पर अनुदान का लाभ उसी स्थिति में दिया जाएगा, जब वह सामग्री हेतु अनुदान की पात्रता शर्तो को पूरा करते है। अगर आप पात्रता और शर्तो की जानकारी जानना चाहते है तो वह सम्बन्धित वेबसाइट के पोर्टल पर दी गई है।

चयनित डीलर के माध्यम से लाभार्थी को अपने अभिलेख के साथ-साथ देयक की प्रति एवं सामग्री के विवरण को पोर्टल पर दर्ज कराना होगा ।एक बार डीलर का चयन हो जाने पर डीलर को पुनः बदलना संभव नहीं होगा ।

योजनां के तहत  जो किसान भाई अपात्र घोषित हुए है उन्हें किसी भी तरह की कृषि उपकरणों के खरीद पर अनुदान का लाभ नहीं मिलेगा । स्वयं की पात्रता सुनिश्चित करने के बाद ही किसान भाई सामग्री खरीद कर सकेगें। अगर अपात्र होने के बाद भी यदि कोई लाभार्थी सामग्री को खरीदता है तो ऐसी स्थिति मे उसे अनुदान नही दिया जायेगा तथा सम्बन्धित विभाग इसके लिए उत्तरदायी नही होगा ।

डीलर को कृषक द्वारा यंत्र/सामग्री की राशि का भुगतान बैंक ड्राफ्ट, चेक, ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से ही किया जाएगा। जिसमे नगद राशि स्वीकार नहीं की जायेगी।

डीलर के माध्यम से अभिलेख एवं देयक आदि पोर्टल पर अपलोड करने के 7 दिन में विभागीय अधिकारी द्वारा सामग्री तथा अभिलेखों का भौतिक सत्यापन किया जायेगा। भौतिक सत्यापन में सभी अभिलेख उपयुक्त पाये जाने, खरीद अनुसार यंत्र/सामग्री उपयुक्त पाये जाने तथा योजना की शर्तो को पूरा करने पर ही लाभार्थी को अनुदान प्राप्त किया जाएगा।    

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के लाभ 

  • ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना का लाभ मध्य प्रदेश राज्य के किसान भाईयों को प्राप्त होगा।
  • योजना के जरिए किसानो को उपकरण खरीदने पर राज्य सरकार दवारा 30 % से लेकर 50 % तक की अनुदान धनराशि प्रदान की जाएगी ।
  • किसानों को 40,000 से 60000 रूपए तक की सब्सिडी मिलेगी।
  • लाभार्थीयो को दी जाने वाली धनराशि उनके बैंक खाते मे ट्रांसफर की जाएगी।
  • अच्छे उपकरण मिलने से किसानो को खेती करने मे आसानी होगी।
  • योजना के तहत अगर कोई महिला औरत किसान है तो इसके लिए उन्हे ज्यादा रियायत दी जाएगी।
  • फसलो की पैदावारा बढेगी। साथ ही किसान भाईयों के समय की बचत होगी।

e-krishi yantra anudan योजना की मुख्य विशेषताएं 

  • किसानो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना
  • किसानो को कृषि उपकरण खरीदने के लिए ज्यादा पैसो का भुगतान नहीं करना होगा।
  • उपकरण खरीदने के लिए सरकार देगी सब्सिडी
  • फसलो की पैदावार वढेगी
  • किसानो की आय मे होगा सुधार

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना का आवेदन करने के लिए किसान भाईयों को सब से पहले अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है जिस का लिंक आप को निचे दिया गया है। 

dbt.mpdage.org/index.htm

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

लिंक पर क्लिक करते ही आप के सामने इस तरह से अधिकारिक वेबसाइट का home पेज open हो जायेगा. इस केबाद आप को होम पेज पर तिन बॉक्स दिखेंगे. जिस में से आप को आवश्यक यंत्र या उपकरणों के बॉक्स पर मौजूद “ आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना होगा. याने अगर आप कृषि यंत्र कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय के बॉक्स पर क्लिक करें.यहां क्लिक करने के बाद आप अगले पेज मे आ जाओगे।

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

एक नया पेज आप को इस तरह से दिखाई देगा, जिस पर अन्य जानकारी के साथ एक “अनुदान हेतु आवेदन करें” का फॉर्म दिखाई देगा. आपको इस फार्म मे दी गई सारी जानकारी भरने के बाद निचे दिए गये  capture finger के बटन पर क्लिक करना होगा ।

यहां क्लिक करते ही आपके द्वारा योजना के लिए सफलतापूर्वक पंजीकरण कर दिया जाएगा। सफल पंजीकरण के बाद, लाभार्थी को एप्लिकेशन नंबर उपलव्ध होगा, उसे आपको भविष्य के लिए सुरक्षित करके रख लेना है ।

पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Login के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने Login Form खुलकर आएगा जिसमें आपको अपनी User ID, Password एवं Captcha Code दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Sign in के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे।
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना के लिए आवेदन की स्थिति की जाँच कैसे करें 

सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उस के बाद ऊपर के जानकारी में दिए गये  “आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना है आप के सामने फॉर्म वाला पेज होगा जिस के राईट साइड में “आवेदन की वर्तमान स्थिति” का ऑप्शन दिखाई देगा. ( फोटो में देखें)

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

अब आपको “आवेदन की वर्तमान स्थिति” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।  यहां क्लिक करते ही आप अगले पेज मे आ जाओगे।

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

अब आपको आधार क्रमांक / आवेदन क्रमांक नंवर भरने के बाद खोजें वाले बटन पर क्लिक कर देना है। यहां क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन की स्थिति आ जाएगी। 

पंजीकृत आवेदनों की सूची कैसे देखें 

सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उस के बाद ऊपर के जानकारी में दिए गये  “आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना है आप के सामने फॉर्म वाला पेज होगा जिस के राईट साइड में “आवेदन की वर्तमान स्थिति” का ऑप्शन दिखाई देगा. ( फोटो में देखें)

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

यहां आपको पंजीकृत आवेदनो की सूची वाले बटन पे क्लिक करना है। यहां क्लिक करने के बाद आप अगले पेज मे आ जाओगे। 

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

अब आपको इस पेज मे बताई गई सारी जानकारी भरने के बाद खोजें बटन पे क्लिक कर देना है। खोजें बटन पे क्लिक करते ही आपके सामने पंजीकृत आवेदनों की सूची खुलकर आ जाएगी।

सब्सिडी की राशि कैलकुलेट कैसे करें 

सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उस के बाद ऊपर के जानकारी में दिए गये  “आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना है आप के सामने फॉर्म वाला पेज होगा जिस के मेनू बार में “सब्सिडी कैलकुलेटर” का ऑप्शन दिखाई देगा. ( फोटो में देखें) 

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

यहां क्लिक करने के बाद आपको दी गई जानकारी भरने के बाद Show बटन पे क्लिक कर देना है। Show बटन पे क्लिक करते ही आपके सामने सब्सिडी की राशि खुलकर आ जाएगी।

लॉटरी परिणाम कैसे देखें 

सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उस के बाद ऊपर के जानकारी में दिए गये  “आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना है आप के सामने फॉर्म वाला पेज होगा जिस के मेनू बार में “लाटरी परिणाम” का ऑप्शन दिखाई देगा. अब आपको लॉटरी परिणाम वाले बटन पे क्लिक करना है। यहां क्लिक करने के बाद आप अगले पेज मे पहुंच जाओगे। (फोटो में देखें)

ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना
ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना

 

इस पेज मे आपको बताई गई सारी जानकारी भरने के बाद submit बटन पे क्लिक कर देना है। submit बटन पे क्लिक करते ही आपके सामने लॉटरी परिणाम की लिस्ट खुल जाएगी।  

मोबाइल एप कैसे डाउनलोड करें 

सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उस के बाद ऊपर के जानकारी में दिए गये  “आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना है आप के सामने फॉर्म वाला पेज होगा जिस के ऊपर के मेनू बार में राईट साइड में “ऐप डाउनलोड करें” का ऑप्शन दिखाई देगा. अब आपको “ऐप डाउनलोड करें” बटन पे क्लिक करना है। यहां क्लिक करने के बाद मोबाइल ऐप डाउनलोड हो जाएगी।   

e-krishi yantra anudan योजना हेल्पलाइन नंबर 

अगर लाभार्थी को योजना के सम्बन्धित जानकारी या फार्म भरते हुए किसी तरह की दिक्कत का सामना करना पड रहा है, तो आप दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं – 07554935001

संबोधन

यह थी ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना की सम्पूर्ण जानकारी आप को इस योजना के सम्बन्धित सवाल पूछने हो तो कमेंट सेक्शन में हमें कमेंट करें. 

यह भी पढ़ें :- मनरेगा पशु शेड योजना 2022 | पशु शेड योजना की सम्पूर्ण जानकारी

Leave a Comment