मशरूम की खेती किसान भाईयों के लिए हो सकती है फायदेमंद 

मशरूम खेती के लिए आवश्यक घटक और तापमान की जानकारी 

मशरूम की खेती के लिए ठंड का मौसम जरूरी है।  इसके लिए 18 डिग्री सेल्सियस से 30 डिग्री सेल्सियस तक का तापमान अच्छा माना जाता है।

लेकिन आजकल मशरूम की कई प्रजातियां हैं जिनकी खेती पूरे साल की जाती है।

1. दूधिया मशरूम 2. बटन मशरूम 3. स्ट्रॉ मशरूम। 4. ऑइस्टर मशरूम

चावल की भूसी, गेहूं की भूसी, सोयाबीन की भूसी, गन्ने की भूसी, केले की भूसी, मकई की भूसी आदि का उपयोग मशरूम की खेती के लिए कच्चे माल के रूप में किया जाता है।

एक बैग से 1500 ग्राम तक मशरूम प्राप्त होता है और  साथ ही शेष बची क्यारी (बैगेड सामग्री) का उपयोग खेती में पौधे के उर्वरक के रूप में किया जा सकता है।

 राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत 20×12×10 फीट जगह और अन्य उपकरणों के लिए 80,000 रुपये तक का लाभ उठाया जा सकता है।

कई कंपनियां मशरूम की खेती के लिए प्रशिक्षण और अन्य वित्तीय सहायता प्रदान करती हैं और साथ ही अनुबंध के आधार पर मशरूम भी खरीदती हैं।

किसान भाईयों, बाजार में मशरूम की मांग को देखते हुए मशरूम की खेती एक सुविधाजनक और लाभदायक खेती व्यवसाय हो सकता है।

मशरूम की खेती किसान भाईयों के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है।

मशरूम की खेती से जुड़ीं अधिक जानकारी के लिए  Read More पर क्लिक करें ।